घर में तुलसी पौधे सूखने से क्या संकेत देता हैं - DHARMS INFORMATION

Breaking

Mach ads

घर में तुलसी पौधे सूखने से क्या संकेत देता हैं

Tulsi

 
हेलो मित्रों नमस्कार मैं फिर से आ गया हूं एक नया जानकारी लेकर जो मनुष्य के लिए यह जानकारी प्राप्त करना अवश्य होना चाहिए।
👇
आप तो जान रहे हैं कि मैं किस बारे में बात करने जा रहा हूं हां मित्रों तुलसी पौधे यदि किसी घर में सूख जाते हैं तो क्या संकेत देता है ? जानिए
👇
मित्रों तुलसी पौधे घर में यदि सूखने लगे तो हो जाइए सावधान तुलसी पौधे सूखने से संकेत अच्छी नहीं देती है । शास्त्र के अनुसार यदि किसी के घर में तुलसी के पौधे मुरझाने या सूखने लगे तो उनके घर में कलह ,झगड़ा और संकट आ सकते हैं , इसलिए मित्रों पहले ही आप जाग जाइए । 


तुलसी पौधे मानव जाति के कल्याण हेतु इस धरती पर आया है । तुलसी पौधे ऐसे वैसे पौधा नहीं तुलसी पौधे में अच्छे गुणों से भरा है जहां मनुष्य के कई बीमारी को ठीक करने में सक्षम है । इसलिए तुलसी पौधे को हर दिन गंगा पानी देकर पूजा करना चाहिए ।
जिसके घर में तुलसी पौधे हरे भरे होते हैं उनके घर में आर्थिक व्यवस्था बहुत ही अच्छी होती है और जिसके घर में तुलसी के पौधे है ही नहीं उनके घर में मां लक्ष्मी का प्रवेश नहीं होती। 
👇
जिस प्रकार जानवरों को किसी दुर्घटना होने से पहले ही उसकी आहट मिलती है ठीक उसी प्रकार तुलसी के पौधे आपके घर में क्या होने वाले हैं उनको आहट मिल जाती है इसलिए हिंदू धर्म के अधिकांश लोग इसे मानते हैं । 


👉हिंदू शास्त्र के अनुसार तुलसी के पत्ते कुछ खास दिनों में नहीं तोड़ने चाहिए। जैसे कि एकादशी, रविवार और सूर्य या चंद्र ग्रहण काल मे इन दिनों में और रात के समय तुलसी के पत्ते नहीं तोड़ने चाहिए। बिना उपयोग तुलसी के पत्ते कभी नहीं तोड़ने चाहिए। ऐसा करने पर व्यक्ति को दोष लगता है। अनावश्यक रूप से तुलसी के पत्ते तोड़ना, तुलसी को नष्ट करने के समान माना जाता हैं इससे सावधान रहिए ।
👇
बहुत से लोग हैं जो इस बात को ध्यान नहीं देते हैं और जानते भी नहीं है आप हर रोज तुलसी पौधे पर पानी डालते हैं उसे देखभाल करते हैं फिर भी तुलसी पौधे सूख रहे हैं इसका मतलब यह है कि आपके घर में कोई घोर संकट आने वाले हैं इसलिए अपने सावधानी से काम लीजिए ।
👇
सूखे हुए तुलसी पौधे उठा के नदी में अर्पित करें और उसी जगह पर फिर एक नया तुलसी पौधे लगाइए ।
👇
सूखे हुए तुलसी पौधे या पत्ते घर में ना रखें इससे आपके घर में शांति नहीं रहेंगे ।
👇
वास्तुशास्त्र में भी तुलसी को महत्वपूर्ण स्थान दिया गया है। वास्तु के अनुसार 👉तुलसी को किसी भी प्रकार के दोष से मुक्त रखने के लिए उसे दक्षिण-पूर्व से लेकर उत्तर-पश्चिम, किसी भी स्थान तक लगा सकते हैं। 👉अगर तुलसी के गमले को रसोई के पास रखा जाए तो किसी भी प्रकार की कलह से मुक्ति पाई जा सकती है। जिद्दी पुत्र का हठ दूर करने के लिए पूर्व दिशा में लगी खिड़की के सामने रखने से पुत्र का हठ कम हो सकता है । 
👇
तुलसी पौधे जिसके घर में हरे भरे होते हैं उनके घर के सदस्य के स्वस्थ अच्छे रहते हैं इसलिए कोशिश करें कि तुलसी पौधे कभी सुख ना जाए । 


शास्त्रानुसार तुलसी के विभिन्न प्रकार के पौधों का जिक्र मिलता है, और वह अपने-अपने भूमिका निभाते हैं जिनमें 
👉श्रीकृष्ण तुलसी, लक्ष्मी तुलसी, राम तुलसी, भू तुलसी, नील तुलसी, श्वेत तुलसी, रक्त तुलसी, वन तुलसी, ज्ञान तुलसी मुख्य रूप से उल्लिखित हैं। 
इन सभी के गुण अलग-अलग और विशिष्ट हैं। 👉तुलसी मानव शरीर में कान, वायु, कफ, ज्वर, खांसी और दिल की बीमारियों के लिए रामबाण औषधि हैं ।


मित्रों आज के लिए इतना ही बस फिर अगले पोस्ट में आपके साथ मिलेंगे इस पोस्ट में आपको जानकारी कैसा लगा कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताइएगा ताकि में नया-नया आपके लिए इसी तरह पोस्ट डालते रहेंगे धन्यवाद 🙏