दुर्गा सप्तशती आकर्षण मंत्र

 दुर्गा सप्तशती आकर्षण मंत्र जानिए हमारे साथ मित्रों नमस्कार हमारे वेबसाइट में आपको स्वागतम 🙏

Durga mantra


मित्रों आज जो जानकारी आपके लिए लाया हूं आपके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होगी क्योंकि जो काम आज तक नहीं कर पाए वह कम आज के बाद बड़ी आसानी से कर पाएंगे ।  आइए जानते हैं मां दुर्गा सप्तशती आकर्षण  मंत्रों से कठिन से कठिन कार्य सरल तरीका से कैसे कर सकते हैं ।


मित्रों मंत्र का सहारा क्यों लेना चाहिए जो व्यक्ति लंबे दिनों से अपने मन इच्छा काम सफल करने में नाकाम होते हैं उन्हें मंत्र का सहारा लेना चाहिए लेकिन गलत इरादा से नहीं इरादा पक्की होनी चाहिए और किसी की नुकसान नहीं होना चाहिए । अगर वह व्यक्ति किसी की नुकसान या क्षति पहुंचाना चाहते हैं इस मंत्र के जरिए तो यह उल्टा असर पड़ेंगे । इसलिए कभी भी मंत्र का प्रयोग किसी अच्छा जगह पर लगाइए ताकि देवी देवताओं खुश रहें । क्योंकि देवी देवता का ही यह मंत्रों है अगर आप देवी देवताओं के मंत्र से गलत काम करोगे तो उसका परिणाम भयंकर होता है दंड इतने जबरदस्त देते हैं ताकि वह दोबारा ऐसे बुरे कर्म ना सके । 

दूसरे की भला हो दूसरे के साथ साथ अपना भी अच्छा हो इसलिए मंत्र की प्रयोग किया जाता है। और इस मंत्र में इतनी शक्ति है कि इसके जरिए अपना काम बहुत ही आसान कर सकते हैं । किसी की मन पाना चाहते हैं तो इस मंत्र के जरिए आप सरल तरीका से पा सकते हैं ।


तो कैसे करें माता दुर्गा देवी की आकर्षण मंत्रों आइए बिस्तर से जानते हैं ।


दुर्गा सप्तशती आकर्षण मंत्र की मदद से आप अपने अंदर की ऊर्जा कोई गुना शक्ति बढ़ा सकते हैं। अपने अंदर की आकर्षण शक्ति बढ़ाने के बाद इस संसार का प्रत्येक व्यक्ति आपके चित्र और प्रतिभा से आकर्षित होने लगेगा।


इस मंत्र का मेन उद्देश्य यह है की किसी खास व्यक्ति को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए किया जाता है। यदि आप किसी से मन ही मन प्रेम करते है और उसे अपनी ओर आकर्षित करना चाहते है तो इस दुर्गा सप्तशती आकर्षण मंत्र का प्रयोग करने पर आपके लिए बड़ी आसान हो जाएगी उनकी मन को जितना ।


दुर्गा सप्तशती के आकर्षण मंत्र की विधि दूसरा मंत्रों की जैसे ही सुबह के समय स्नान आदि के पश्चात किया जाता है। इस मंत्र का प्रयोग रविवार के दिन करना चाहिए। मंत्रोच्चारण के दौरान किसी अच्छे पवित्र जगह देख कर पीले आसन पर विराजमान होना है साथ ही आपके आसपास का वातावरण शुद्ध एवं एकदम शांत होना चाहिए। अपने चारों और वातावरण को शुद्ध करने के लिए अगरबत्ती जलाई एवं गंगा पाली छिड़काव करें ।


दुर्गा सप्तशति आकर्षण मंत्र कैसे करें?


मंत्र- ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे देवदत्तं यं यं शीघ्रमार्कषय आकर्षय स्वाहा॥


लगातार तीन रविवार और 11000 बार जप करने से मंत्र सिद्ध हो जाता है ।


इस मंत्र में देवदत्तं के स्थान पर उस पुरूष या महिला का नाम लिख देना चाहिए जिसे आप अपनी ओर आकर्षित करना चाहते है। जाप पूरी होने के बाद आपको माँ भगवती की आरती करनी है।