देहो रक्षा मंत्र कैसे करें जानिए

Mantra


 देहो रक्षा मंत्र कैसे करें ?  जानिए हमारे साथ मित्र नमस्कार हमारे वेबसाइट में आपका स्वागत है । 

मित्रों हमारे शरीर स्वस्थ है तो सारे जहां स्वास्थ्य इसलिए सबसे पहले हमारे शरीर को रक्षा करना जरूरी है । अनहोनी को तो कोई रोक नहीं सकता है लेकिन उस पर पर्दा जरूर डाल सकते हैं । कुछ विपत्ति  के कारण हमारे शरीर के अंग नष्ट हो जाता है जिसके कारण जीवन में चलने के लिए बहुत ही तकलीफ झेलना पड़ता है । मित्रों यही सब से छुटकारा पाना चाहते हैं तो देहो रक्षा मंत्र सबको करनी चाहिए देहो रक्षा मंत्र वह है जहां आप के हर संकट को दूर कर सकता है । मतलब आप अपने  अनहोनी के पर पर्दा डाल सकते हैं ।

 मनुष्य के सबसे बड़ा संपत्ति है तो उसका शरीर है । शरीर नष्ट होने पर मनुष्य के और कुछ नहीं रह जाता है इस दुनिया में। इसलिए सर्वप्रथम हमारे शरीर को रक्षा करना बहुत ही जरूरी है । आप कहीं भी चले जाए इस मंत्र के जरिए अपने शरीर का रक्षा आप खुद कर सकते हैं । 

इस दुनिया में हर प्रकार के इंसान मिल जाते हैं कोई अच्छे  होता तो कोई बुरे भी है . बुरे आदमी कभी भी किसी का भला नहीं चाहते हैं । कुछ लोग ऐसे हैं कि आपके सुख देखकर जलते हैं । ऐसे लोगों से भी आप बच सकते हैं इस मंत्र के जरिए । मित्रों आप कोई भी धर्म के हो इसके लिए चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं आवश्यकता तो यह है कि आपका शरीर को रक्षा करना है . आप अपने शरीर को इस मंत्र के जरिए रक्षा करें ।  जात पात देखने की कोई जरूरत नहीं है तो चलिए मित्रों जानते हैं कैसे अपने शरीर को इस मंत्र के जरिए रक्षा कर सकते हैं । 


प्रत्येक मंगलवार और शनिवार के रात्रि में एक पवित्र स्थान में मां काली के तस्वीर सामने रखकर इस मंत्र का जाप करें 10 हजार बार । तस्वीर के सामने एक अगरबत्ती जरूर जलाएं । 


Mantra


ॐ कालिका देवी, काल रूपिणी, महाकाली, नव नाड़ी, बहत्तर जाली, मम भयम् हर हर, रक्षाम् कुरु कुरु स्वाहा।🙏


इस तरह 3 दिन जाप करने से यह मंत्रों सिद्ध हो जाता है । सिद्ध होने के बाद आप अपने शरीर का रक्षा के लिए प्रयोग कर सकते हैं । ध्यान रहे इस मंत्रों का जप करते समय आपको कोई टोके नहीं ।  इस मंत्र का जप करते समय कोई भी आपको टोक दिया तो सिद्ध करने में बहुत मुश्किल हो जाता है इसलिए एकांत पवित्र स्थान में जाना चाहिए ।  हमेशा ध्यान में रखें कि इस मंत्रों के जाप करते समय ठीक से उच्चारण करके ही करें । महाकाली की कृपा हमेशा आप पर बने रहेंगे धन्यवाद ।