Agni beej mantra in Hindi जानिए

अग्नि बीज मंत्र


अग्नि बीज मंत्र जानिए हमारे साथ मित्रों नमस्कार फिर से हमारे वेबसाइट में आपका स्वागत है । 🙏

 अग्नि सिर्फ मनुष्यों के ही नहीं बल्कि पूरे ब्रह्मांड के जितने भी प्राणी है सभी को जरूरत है । इसलिए हिंदू शास्त्र में देवता के स्थान दिया गया है और इन्हें देवता जैसे पूजा भी  करते हैं । अग्नि है जिसे हम इंग्लिश में फायर बोलते हैं वह क्या है और इसका रेलवेज क्या है यह बताने की कोई खास जरूरत नहीं है अगर अग्नि ना हो अगर फायर ना हो तो हम अपने खाना को भी पका कर नहीं खा पाएंगे सारे बहुत सारे यूज़फुल टास्क जो है बिल्कुल ही बंद हो जाएंगे और ऐसा कहना अतिशयोक्ति न होगी कि हमारे जो जीवन है बिल्कुल अवरुद्ध हो जाएगा जीवन की गाड़ी बिल्कुल रुक जाएगी।  तो अग्नि का इतना इंपॉर्टेंट रोल है लेकिन अगर आपसे कोई पूछे अग्नि का सबसे महत्वपूर्ण रोल किया है ? अगर आप सिंपल क्वेश्चन पूछे तो आपके दिमाग में कोई बोलेगा वही हम जो चलाते हैं ।  अगर आग नहीं होगा तब तक नहीं चलेगा कोई खाना बनाते हैं जितना भी उपयोगिता रही है वह हमारे लाइफ को आगे बढ़ाने के लिए है । और जो भी चीज से जुड़ा हुआ हो वह कभी भी हो सकता है  ।दूसरी बात यह है कि जैसे-जैसे जाती है पावरफुल होती जाती है ।


फॉर इंस्टेंस आपका आदमी तो पेट में भी है ऐसे जठराग्नि बोलते हैं । और संस्कृत में कृष्ण भगवान ने गीता में बोला भी है जितनी तेरी पेट में खाना खाता है उसे मैं jeth agni बनकर पचाता हूं अगर मैं ऐसा ना करूं जो तू खा रहा है वह डाइजेस्ट भी नहीं हो पाएगा । साइंस का भी बिल्कुल सेम ओपिनियन है । जब तक हमारे लीवर से bailo जितने तरीका का डाइजेस्टिव एंजाइम्स है अगर वह ना निकले तो खाना  पचेगा ही नहीं वह पेट में ही रहेगा सालों साल तक ।जो भी उसका वो डाइजेशन उसका कभी नहीं होगा तो एक बात है और बहुत इंपॉर्टेंट और सबसे बड़ी बात है उसके के अंदर अग्नि छुपा हुआ है । कोई भी किस कोई भी ऑब्जेक्ट उठा लो या कुछ भी ले लो उसमें फायर छुपा हुआ है और अगर आपको विश्वास नहीं होता है अगर वह जोर से बहुत हाई वेलोसिटी उसे किसी दूसरी चीज से टकराएगा तो उसमें आग लग जाएगा या फिर उससे बहुत ज्यादा लाइटिंग होगा क्योंकि इस बात को प्रूफ करता है कि फायर ऑलरेडी सिस्टम में अवेलेबल है । और हमारी पेट के अंदर भी है हमारे शरीर के एक ही टिशु एक एक सेल के अंदर फायर मौजूद है तो हमारे इंस्टेंस के लिए अगर पायल जो भी जो तत्व है भगवान ने बनाया है अगर फायर को हटा दिया जाए तो कोई चीज से एडजस्ट नहीं होगा । आग की यही महत्व है लेकिन हम  मनुष्य होने के नाते हमें जानने का अधिकार है कि शायद अपने सबसे ज्यादा पावरफुल स्टेट में कहां पर होता है और उस स्टेट में वह क्या करता है यह जानना हमारा हक है । वहां पर भी फायरिंग ओंस है जैसे आपने Bus पर जो भी व्यक्ति के एग्जांपल दिया खाना पकाने का ले लिया हमारे अगल बगल से जो भी वस्तु है उनमें लेटेस्ट रूप से फायर है ,सब जगह है । लेकिन इसका उत्तर हमें मिलता है कठोपनिषद में । कठोपनिषद जो है वह वेदों का भाग है मित्र देखिए हमारे सारे जो भी हमारे दिमाग में प्रश्न है उसको सटीक उत्तर जो है वह वेदों में मौजूद है । मैं सर्विस की बात नहीं कर रहा हूं कि आप क्या सोचते हैं ऐसा हो सकता है ऐसा ही है तो बार-बार क्वेश्चन करने पर नचिकेता के मृत्यु से गॉड ऑफ वार क्वेश्चन करने पर उन्होंने बोला इस दौरान बातचीत के दौरान स्वर्ग में जो चला जाता है  वहां के लोगों को बुढ़ापा जवानी इत्यादि चीजों का सामना नहीं करना पड़ता है । उनके पास कोई रोक नहीं आता है वह कभी भी जीन बनकर धरती में नहीं आते हैं यही कारण है कि यम का रब नहीं चलता है ।  तो चलिए मित्र में आपको बहुत कुछ इधर-उधर घुमा फिरा कर बात बोल दिया अब आपको बीज मंत्र देने जा रहा हूं जिसके जरिए आप कहीं भी किसी की भलाई के लिए इस मंत्र का प्रयोग कर सकते हैं  । 

अग्निदेव बीज मंत्र ।

अग्नि मंत्र- ॐ अग्नेय स्वाहा। इदं अग्नेय इदं न नम

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

--------------OR----------------- Editable Script:
close