भविष्य जानने का हैं तो शिव मंत्र ऐसे कर लीजिए सिद्ध

भविष्य


भविष्य जानने के लिए कैसे करें उपाय जानिए हमारे साथ मित्रों नमस्कार हमारे वेबसाइट में आपका स्वागत है । हम अपने भविष्य जानने के लिए सक्षम है मगर उसका उपाय नहीं जानते हैं । प्रिय मित्रों आज हम आपको ऐसे उपाय बताएंगे जहां भगवान शिव के मंत्र के जरिए अपने भविष्य को खुद देख सकते हैं आने वाले समय में आपके साथ क्या घटित होने वाले । 



प्रिय मित्रों अगर कोई व्यक्ति अपने भविष्य खुद देखना सीख जाए तो उनके लिए कितना अच्छा होगा ‌‌वह अपने स्वयं को पता लगा सकते हैं कि आने वाले समय में उनका संकट या शुभ समाचार आने वाले हैं  ।  जब आप अपने भविष्य का पता खुद लगा सकते हैं तो सिर्फ आपके लिए नहीं अपितु आपके परिवार के लिए भी कल्याण होगा ।


प्रिय मित्रों हमारे शरीर पंचतत्व से बनि हुए हैं अगर हम इन पांचों तत्वों में से एक तत्व को जागृत कर सकते हैं तो भविष्य को जान सकते हैं । उसके बाद हम मनुष्य के अंदर जो पांच इंद्रियों होते हैं उसे भी अपने वश में अगर कर लिए तो अपने भविष्य खुद देख सकते हैं । लेकिन हमारे अंदर पांच इंद्रियों को वश में करना इतना सरल नहीं होती है इसके लिए आप भगवान शिव के इस मंत्र के जरिए ही वश में कर सकते हैं । आपको कठोर तपस्या करना होगा कष्ट उठाना पड़ेगा तभी आप इस काम को सफल प्राप्त कर सकते हैं और साथ साथ भगवान के प्रति श्रद्धा और विश्वास रखना होगा । 


बड़े बड़े ज्योतिष महाराज जी भूत, भविष्य, वर्तमान यह तो कुंडली देखकर ही पता लगाने में सक्षम होते हैं । इसके लिए ज्योतिष महाराज बहुत मेहनत की है ज्योतिष महाराज खुद का भविष्य बता नहीं सकते हैं लेकिन आपका भविष्य बताते हैं । क्या ज्योतिष महाराज के हर बात सच होता है नहीं कुछ ही बात सच होता है तो कुछ झूठ भी निकालते हैं ।


मित्रों अपने पंच इंद्रियों को वश में करने के बाद हमारे भीतर से एक दिव्य शक्ति का उर्जा उत्पन्न होती है जिससे आप अपने खुद का भविष्य देख सकते हैं । इसलिए आपको भगवान शिव के इस मंत्र पाठ करना होगा जिससे आप पंच इंद्रियों को वश में कर सकते हैं एवं अपने अंदर दिव्य शक्ति का उर्जा उत्पन्न कर सकते हैं ।


भविष्य जानने के लिए यह है भगवान शिव मंत्र जानिए कैसे सिद्ध करें । 


प्रिय मित्रों हर सोमवार के दिन सुबह शादी करके भगवान शिव मंदिर चले जाइए या तो अपने ही घर में भगवान शिव मंदिर का स्थापित कर लीजिए या शिवलिंग का स्थापित करें । उसके बाद अगरबत्ती जला कर शिवलिंग पे जल अभिषेक करें । उसके बाद इस मंत्र का निरंतर जाप करें आपके अंदर जितना क्षमता है उतना देर तक इस मंत्र का जाप करें । इस तरह आप हर सोमवार के दिन अवश्य करें इससे यह मंत्रों अपने आप सिद्ध हो जाता है । 


 पंचाननाय फणिराज विभूषणाय

हेमांशुकाय भुवनत्रय मण्डिताय।।


आनन्दभूमि वरदाय तमोमयाय।

दारिद्रय दु:ख दहनाय नमःशिवाय।।


भानुप्रियाय भवसागर तारणाय

कालान्तकाय कमलासन पूजिताय।।


संसारसृष्टिघटनापरिवर्तनाय

रक्षःपिशाचगणसिद्धसमाकुलाय।


सिद्धोरगग्रहगणेन्द्रनिषेविताय

शार्दूलचर्मवसनाय नमःशिवाय।। 


मुझे उम्मीद है कि हमारे यह जानकारी आपको पसंद आया होगा और भी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस तरह हमारे साथ हमेशा जुड़े रहिए धन्यवाद ।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ