भगवान शनिदेव की नजर से बचने का मंत्र - DHARMS INFORMATION

Breaking

October 09, 2020

भगवान शनिदेव की नजर से बचने का मंत्र

 


बहुत लोग ऐसे हैं कि भगवान शनि के नजर से बचना चाहते हैं परंतु उन्हें यह पता नहीं होता की किस नियम से और क्या करने से भगवान शनि देव के नजर से बचेंगे।  ज्यादातर लोग अमीर होने के लिए दिन रात सपने देखते हैं अपने अमीर होने के लिए । कुछ लोग गलत कदम भी उठाते हैं अमीर बनने के लिए उसी रास्ते में सफल भी पा लेते हैं पर उसे पता नहीं होता बाद में कि हम गलत कर रहा हूं या सही कर रहा हूं , उसे तो अमीर बनना था वह अमीर बन चुका है ।

ठीक उसी प्रकार आदमी पर भगवान शनि देव नजर देते हैं देखना चाहते हैं कि कैसे वह गलत काम कर रहे हैं । 

 भगवान शनि देव न्याय की भगवान है अपने भक्तों पर अन्याय होने नहीं देते हैं ।

आप तो जानते हैं कि भगवान शनिदेव की नजर पड़ने से उसकी क्या हालत हो सकती हैं इसलिए ऐसा कर्म करें और ऐसा नियम से चले ताकि भगवान शनिदेव आप पर नजर ना दे । 


यह भी बात है यदि भगवान शनिदेव की कृपा आप पर बरसे तो आप मालामाल हो जाएंगे लेकिन शनिदेव की नजर से बचना है , आज हम आपको वह मंत्र बताएंगे जो आप भगवान शनिदेव की नजर से हमेशा के लिए बचे रहेंगे और भगवान शनिदेव आप पर ऐसी कृपा करेंगे कि आप के संसार में सुख समृद्धि बढ़ेगी  आर्थिक व्यवस्था बढ़ेगी ।

बस अपने मन को भक्ति और श्रद्धा से इस मंत्रों का शाम के वक्त जब करें भगवान शनि देव के सामने ।


👉ध्यान रहे किसी भी बुरा काम में दखल अंदाज नहीं देना,👉 झूठ का सहारा नहीं लेना 👉जितने हो सके सच्चाई मन से अपने काम से लगा रहना ।

 यदि आप अपने को इस नियम अनुसार चल सकते हैं तो शायद आपके लिए बहुत ही आसान हो जाएगी भगवान शनि देव की कृपा पाने की ।

इस मंत्रों का ध्यान रखकर आदत बना लीजिए जब भी भगवान शनिदेव की मूर्ति देखेंगे कहीं भी तो इस मंत्रों का जाप अवश्य करें और शाम के वक्त भगवान शनिदेव के सम्मुख होकर इस मंत्र का प्रतिदिन जाप करें यदि आप ऐसे करते हैं तो शायद भगवान शनिदेव की नजर आपके तरफ कभी नहीं पड़ेंगे । 

इस मंत्रों आप तभी करें जब आपके शरीर शुद्ध हो यानी गंगा पानी से नहा धोकर इस मंत्रों का 10 हजार बार जब करें हिंदू संस्कृति के अनुसार गंगा पानी से नहाने से इंसान के शरीर पवित्र हो जाते हैं और उनकी मन भी बदल जाते हैं इसलिए गंगा पानी से यदि आप नहा नहीं सकते हैं तो कम से कम गंगा पानी अपने पर थोड़ा सा लेकर भगवान शनि देव के सम्मुख बैठकर इस मंत्र का जप करें ।

शनि बीज मन्त्र –
ॐ प्राँ प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः ॥
🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏